MP-आर्म्ड फोर्सेज के जवानों को मिलेगा सातवां वेतन:बालाघाट में CM शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐलान, नक्सलियों का सफाया करने वाले पुलिस जवानों का प्रमोशन

 MP-आर्म्ड फोर्सेज के जवानों को मिलेगा सातवां वेतन:बालाघाट में CM शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐलान, नक्सलियों का सफाया करने वाले पुलिस जवानों का प्रमोशन

मप्र में हॉक फोर्स के जवानों को सातवें वेतन का लाभ जल्दी मिलेगा। बालाघाट में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यह घोषणा की। सीएम बालाघाट में नक्सलियों का सफाया करने वाले 31 पुलिसकर्मियों काे सम्मानित करने पहुंचे थे। सीएम ने हॉक फोर्स के जवानों को पदोन्नति देते हुए सेल्यूट किया। कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- हमने तय कर दिया है कि हमारे आर्म फोर्स के जवानों सातवें वेतन का लाभ दिया जाएगा। कभी छठवां वेतन आयोग, कभी सातवां वेतन आयोग और कई बार तो सरकार पैसा बचाने की कोशिश करती है कि छठवां वेतन ही देते रहो, सातवें पर आओ ही मत। लेकिन हमने सीधे निर्देश दिए कि इधर- उधर का नहीं चलेगा आर्म फोर्स के जवानों का 7वें कमीशन वाला वेतन बढ़ेगा।मप्र में हॉक फोर्स के जवानों को सातवें वेतन का लाभ जल्दी मिलेगा। बालाघाट में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यह घोषणा की। सीएम बालाघाट में नक्सलियों का सफाया करने वाले 31 पुलिसकर्मियों काे सम्मानित करने पहुंचे थे। सीएम ने हॉक फोर्स के जवानों को पदोन्नति देते हुए सेल्यूट किया। कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- हमने तय कर दिया है कि हमारे आर्म फोर्स के जवानों सातवें वेतन का लाभ दिया जाएगा। कभी छठवां वेतन आयोग, कभी सातवां वेतन आयोग और कई बार तो सरकार पैसा बचाने की कोशिश करती है कि छठवां वेतन ही देते रहो, सातवें पर आओ ही मत। लेकिन हमने सीधे निर्देश दिए कि इधर- उधर का नहीं चलेगा आर्म फोर्स के जवानों का 7वें कमीशन वाला वेतन बढ़ेगा।

नक्सलियों के गढ़ में बोले नरोत्तम- युद्ध और बुद्ध में किसे चुनना है ये तय कर लें

नरोत्तम बोले- शिवराज जी के मुख्यमंत्री बनने के पहले मप्र और बालाघाट नक्सली गतिविधियों के लिए मशहूर हो गया था। हमारी सरकार में 93 लाख रूपए के इनामी नक्सली मारे हैं या जेल में डाले हैं । हम मारना नहीं चाहते नक्सलियों से कहते हैं कि आओ मुख्यधारा में शामिल हो मप्र सरकार ने नक्सलियों के लिए कई योजनाएं चलाईं हैं। युद्ध की संभावनाओं में रह रहे लोग सुन लें ”युद्ध भी है बुद्ध भी हैं” जिसे चाहें चुन लें। बीजेपी सरकार के पहले ग्वालियर, चंबल में डाकुओं के गैंग हुआ करते थे। अब एक भी गैंग मप्र में जिंन्दा नहीं हैं। कार्यक्रम में बालाघाट जिले के प्रभारी मंत्री हरदीप सिंह डंग, केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, पिछडा वर्ग आयोग के अध्यक्ष गौरीशंकर बिसेन, रामकिशोर कांवरे, विधायक हिना कांवरे, डीजीपी सुधीर सक्सेना, एडीजी आदर्श कटियार मौजूद थे।

पुलिस के कार्यक्रम में सीएम के भाषण की खास बातें

  • घोर- घने जंगलों में पैदल चल कर जो समाज के लिए खतरा है उसका मुकाबला और सामना करके उनको निर्मूल करने की जिम्मेदारी जिनके कंधों पर है। न दिन में सोते हैं न रात में सोते हैं दिन रात खतरा उठाकर भी दूसरों की सुरक्षा की चिंता करते हैं।
  • ये अपना परिवार अद्भुत है। आज मैं अपनी बहनों को पहला श्रेय देना चाहूंगा। जब बाकी सारे लोग उत्सव, त्यौहार, दीपावली, दशहरा, होली, रंगपंचमी, रक्षाबंधन अपने परिवार के साथ मनाते हैं। तब यह बहनें जिनके हौसले के कारण हमारे जवान दूर घनघोर जंगलों में भी जनता की सुरक्षा करते हैं।
  • प्रदेश की 8.5 करोड़ जनता आपकी आभारी है। इसलिए अपने गांव और शहरों में हम चैन से बैठते, सोते या उत्सव मनाते हैं क्योंकि आप दिन और रात जहां खतरा है। खड़े रहकर लोगो के सुरक्षा की चिंता करते हैं।
  • मैं आपको दिल से प्यार करता हूं। आपका आदर करता हूं और आज मैं आपको विश्वास दिलाता हूं की आपकी इज्जत और मान सम्मान में कोई कमी ना रहे इसकी चिंता हम सदैव करेंगे। समाज के साथ सही से, प्रेम से समरस होइए। प्रगति-विकास के साथ कदम से कदम और कंधे से कंधा मिलाइए। भोली-भाली जनता को भ्रमित मत कीजिए।
  • बंदूक की गोली से किसी को कुछ मिलने वाला नहीं है इसलिए हमारी पहल शांति के लिए है। लेकिन लेकिन अगर जनता को किसी ने छेड़ा तो हम छोड़ेंगे नहीं।
  • बालाघाट पुलिस के जवानों को मिला प्रमोशन

रामपायली का होगा विकास

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बीते 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह में बालाघाट जिले के रामपायली में डॉ.हेडगेवार से जुडी स्मृतियों को संरक्षित करने की घोषणा की थी। आज सीएम इस इलाके में पहुंचेंगे। बचपन से डॉ. हेडगेवार का नाता रामपायली से नाता रहा है। यह गांव हेडगेवार की कर्मभूमि रही है। आरएसएस की स्थापना के पहले डॉ हेडगेवार ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की गतिविधियों को संचालित किया। कलकत्ता से एमबीबीएस करने के बाद डॉ हेडगेवार ने आरएसएस की स्थापना के पहले लंबे समय रामपायली में रहकर भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की विभिन्न गतिविधियां संचालित कीं। डॉ. हेडगेवार ने दशहरे के दिन रामपायली में स्वतंत्रता संग्राम के लिए अपनी पहली सभा की थी।

हेडगेवार के घर और मंदिर का करेंगे निरीक्षण

स्वतंत्रता संग्राम के दौरान डॉ हेडगेवार ने रामपायली में रहकर ही जंगल सत्याग्रह सहित अनेक क्रांतिकारी गतिविधियों की रचना की और यहीं से उसका क्रियान्वयन किया। रामपायली में ही डॉ केशव बलीराम हेडगेवार का बचपन गुजरा है, उनका पुराना घर और उनका पूजन स्थल विठ्ठल रुकमई का मंदिर वर्तमान में जीर्ण शीर्ण हो चुके हैं।

CM के बालाघाट दौरे का कार्यक्रम

  • दोपहर 12.30 बजे – बालाघाट के पुलिस लाईन ग्राउंड के पास, ‘क्रम पूर्व पदोन्नति’ को लेकर स्थानीय कार्यक्रम।
  • दोपहर 1:20 बजे – जिला सहकारी बैंक बालाघाट प्रांगण में, नवनिर्मित “सहकार भवन” का लोकार्पण।
  • दोपहर 1:35 बजे – मण्डी परिसर बालाघाट में, शिक्षक सम्मान समारोह एवं भूमिपूजन/लोकार्पण कार्यक्रम।
  • दोपहर 2:45 बजे – वारासिवनी विकास खण्ड विधायक श्री प्रदीप जायसवाल जी, के निवास पर स्थानीय कार्यक्रम।
  • दोपहर 3:20 बजे – डा. केशव बलिराम हेडगेवार जी की क्रांतिभूमि रामपायली में स्मृति दर्शन, परिचर्चा एवं भ्रमण।

Iram Khan

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.