शहर के उपनगर कोलार में शो-पीस बने ट्रैफिक सिग्नल, रोजाना लग रहा ट्रैफिक जाम

 शहर के उपनगर कोलार में शो-पीस बने ट्रैफिक सिग्नल, रोजाना लग रहा ट्रैफिक जाम

राजधानी के ढाई लाख आबादी वाले उपनगर कोलार में सालों की मांग के बाद चार महीने पहले लगे ट्रैफिक सिग्लन शो-पीस बन कर रह गए हैं। नयापुरा व मंदािकिनी चौराहे पर लगे सिग्नल दो महीने से बंद हैं। रोजाना ट्रैफिक जाम लग रहा है। पीक आवर समय सुबह 10 से दोपहर 12 बजे और शाम पांच से सात बजे तक वाहन चालक ट्रैफिक जाम में फंस जाते हैं। कोलार मुख्यमार्ग पर पीक आवर समय में प्रतिघंटा 40 हजार तक वाहनों की आवाजाही होती है। ऐसे में ट्रैफिक सिग्नल का बंद होना लोगों की परेशानी बन गया है। नगर निगम, ट्रैफिक पुलिस बंद पड़े सिग्नलों को ठीक न हीं करा पा रहे हैं। मंदाकिनी इलाके में आने वाले सागर प्रीमियम निवासी विजय शंकार दीक्षित ने बताया कि डेढ़ दशक से रहवासी निरंतर कोलार मुख्यमार्ग के चौराहों पर ट्रैफिक सिग्नल लगवाने की मांग कर रहे थे। जैसे-तैसे नयापुरा व मंदाकिनी चौराहे पर सिग्नल लगे पर थोड़े दिनों ही बाद सिग्नल बंद हो गए। शिकायतों के बाद भी जिम्मेदार अधिकारियों ने अभी तक बंद पड़े सिग्लनों की देखने तक निरीक्षण नहीं किया है। इतना ही नहीं क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा भी बंद पड़े ट्रैफिक सिग्नलों को देखते तक नहीं आए हैं। ट्रैफिक सिग्लन बंद होने से चारों तरफ से वाहन चालक मुख्यमार्ग पर आते हैं। मनमर्जी से वाहन चलने से कई बार वाहन टकरा जाते हैं। इससे वाहन चालक चोटिल हो जाते हैं। इस संबंध में विधायक रामेश्वर शर्मा ने बताया कि जल्द ही कोलार क्षेत्र का निरीक्षण करके संबंधित नगर निगम प्रशासन के अधिकारियों व ट्रैफिक पुलिस के जिम्मेदार अफसरों से तत्काल सिग्नल लगवाने के लिए निर्देशित किया जाएगा।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.