भोपाल में 31 मार्च के बाद हो सकते हैं भेल थ्रिफ्ट सोसायटी के चुनाव

 भोपाल में 31 मार्च के बाद हो सकते हैं भेल थ्रिफ्ट सोसायटी के चुनाव

भेल की सबसे प्रमुख सहकारी संस्था थ्रिफ्ट सोसायटी के चुनाव 11 संचालक मंडल के सदस्य चुनने के लिए 31 मार्च के बाद हो सकते हैं। पहले 4700 सदस्यों वाली सोसायटी के चुनाव नौ जनवरी को होने थे, लेकिन कोरोना के कारण प्रस्तावित तारीख 23 जनवरी रखी गई। कोरोना संक्रमण बढ़ने से प्रस्तावित तिथि में चुनाव नहीं हो सके। नियमानुसार सोसायटी का पांच साल का कार्यकाल खत्म होने के 90 दिनों तक अध्यक्ष पहले भेल प्रबंधन और फिर प्रशासन से चुनाव कराने की अनुमति लेता है। अनुमति मिलने के बाद बनाया गया चुनाव अधिकारी चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराता है। यदि 90 दिनों में चुनाव नहीं होते हैं तो प्रशासक बैठाया जाता है। इसके बाद अध्यक्ष चुनाव कराने की अनुमति नहीं मांग सकता।बता दें कि थ्रिफ्ट सोसायटी के चुनाव का कार्यकाल 12 जनवरी को पूरा हो चुका है। थ्रिफ्ट सोसायटी के सदस्य भेल के कर्मचारी व अधिकारी ही हैं। इन सभी को 31 मार्च तक भेल का उत्पादन पूरा करना है। ऐसे में भेल प्रबंधन 31 मार्च तक थ्रिफ्ट सोसायटी के चुनाव कराने की अनुमति नहीं देगा। इससे अब सोसायटी के चुनाव 31 मार्च के बाद ही होने की उम्मीद जताई जा रही है। थ्रिफ्ट सोसायटी के अध्यक्ष बसंत कुमार ने बताया कि हमारी पहली प्राथमिकता है कि भेल का उत्पादन लक्ष्य पूरा करना है। इसके बाद ही चुनाव कराने की अनुमति लेना ठीक रहेगा। इससे पहले कोरोना संक्रमण बढ़ने से चुनाव कराने की अनुमति नहीं ली थी।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.