भाजपा कोर ग्रुप:निगम-मंडल, जनभागीदारी समितियों और सरकारी वकीलों की नियुक्तियों का रास्ता साफ; 18 जिलाध्यक्ष बदलेंगे

 भाजपा कोर ग्रुप:निगम-मंडल, जनभागीदारी समितियों और सरकारी वकीलों की नियुक्तियों का रास्ता साफ; 18 जिलाध्यक्ष बदलेंगे

प्रदेश के निगम मंडलों, सरकारी वकीलों, जनभागीदारी समिति और सरकार में सभी खाली राजनीतिक पदों पर नियुक्तियां जल्द होंगीं। रविवार को भाजपा कोर कमेटी की बैठक में ये तय हुआ। राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ब्यूरोक्रेसी के कामकाज और खराब रवैए का मुद्दा उठाया। जवाब में सीएम शिवराज सिंह ने कहा, अफसर अच्छा काम भी करते हैं। इस विषय को देखेंगे। प्रशासनिक फेरबदल करेंगे। सीएम ने कहा, नेता भी बयानबाजी से बचें और कोई दिक्कत है तो मुझे, पार्टी अध्यक्ष या संगठन महामंत्री को बताएं। बैठक में तय हुआ कि नवंबर में पार्टी दो दिन तक अमरकंटक में चिंतन बैठक करेगी। इसी दौरान मिशन 2023 की सारी रणनीति बनाई जाएगी। वहीं निकाय चुनाव में हार के चलते 18 जिलाध्यक्षों को बदला जाएगा।

करीब दो घंटे चली बैठक में संगठन के काम पर बात हुई। तय हुआ कि प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर से सेवा पखवाड़ा मनेगा। प्रदेश के सारे बड़े नेताओं को सेवा के काम करने जाना पड़ेगा। ये बात सामने आई कि प्रभारी मंत्री जिलों में सक्रिय नहीं हैं। इनके प्रभार बदले जाएंगे। कमेटी के सामने साफ हो गया कि इसी महीने बड़ी सर्जरी होगी। बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, ओमप्रकाश धुर्वे, केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, लालसिंह आर्य, सांसद राकेश सिंह, मंत्री नरोत्तम मिश्रा, कविता पाटीदार मौजूद थे। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बैठक में शामिल नहीं हुए।

सिंधिया ने की संगठन महामंत्री हितानंद से बंद कमरे में मुलाकात

कोर कमेटी के पहले राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और मुरलीधर राव के बीच एकांत में लगभग आधा घंटा चर्चा हुई। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आते ही संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा के साथ बंद कमरे में अलग से 35 मिनट चर्चा की। सूत्रों के अनुसार बैठकों में ब्यूरोक्रेसी को लेकर बात हुई। सिंधिया ने निर्दलीयों को पार्टी में वापस लेने और चुनाव लड़ने वाले बागियों पर कार्रवाई नहीं होने पर बात की है। भाजपा संगठन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को कुशाभाऊ ठाकरे ट्रस्ट का चेयरमैन बनाया है।

ये भी निर्णय…

13 जिलाध्यक्षों को चुनाव का जिम्मा

46 निकायों में होने वाले चुनाव पर देर रात मुख्यमंत्री और प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने बैठक ली। इसमें 13 जिलाध्यक्षों को चुनाव जिताने की जिम्मेदारी दी गई।

अवैध काम वाले मदरसे उखाड़ फेंकें

जयभान सिंह पवैया ने कहा कि जिन मदरसों में अवैध गतिविधियां चल रही हैं, उन्हें उखाड़कर फेंक देना चाहिए। वीडी शर्मा ने बताया, आठ लाख कार्यकर्ताओं से 8 करोड़ रु. जुटाए गए है

Iram Khan

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.