पोस्टमार्टम में सामने आयी अंकिता की मोत की वजहा: शाहरुख की करतूत ने छीनी मासूम की जान

 पोस्टमार्टम में सामने आयी अंकिता की मोत की वजहा:  शाहरुख की करतूत ने छीनी मासूम की जान

प्रेम प्रस्ताव ठुकराने पर दुमका में पेट्रोल छिड़क कर ज़िंदा जला दी गई नाबालिक अंकिता सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट दुमका पुलिस को मिल गई है। अंकिता के शव का पोस्टर्मार्टम रची स्थिति रिम्स के फोरेंसिक मेडिसिन एंड टॉक्सीकॉलॉजी विभाग में हुआ था। रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो गया है’ के अतयधिक जलनशील पदार्थ से अंकिता को जलाया गया जलने से शरीर के परत पर मवाद जमा हुआ और जिसके चलते अंकिता के शरीर ने भी साथ छोढ़ दिया जिससे उस मासूम की जान चली गई।

पोस्टमार्टम के दौरान अंकिता के शरीर से बिसरा को सुरक्षित निकल कर रांची रिम्स में रखा गया है। जिसकी फोरेंसिक जाँच होगी पोस्टमार्टम इस बात का ज़िक्र किया गया है की तीन महीने के अंदर उस बिसरा को राज्य विधि विग्ज्ञान पिर्योगशाला में नहीं ले जाएगी तो रिम्स परबंधन उसे निष्पादित कर देग।

इंटरनेट पर अंकिता की कई तस्वीरें वायरल हुई है। जिसके आधार पर यह दवा किया जा सकता है के अंकिता की शाहरुख से पूर्व में दोस्ती रही है। हलाकि रिम्स ने जो दुमका पुलिस को जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट दी है उसमे पूर्व में सम्बन्ध बने होने के बिंदु पर किसी भी पिरकार का मंत्वय नहीं दिया गया है।

23 अगस्त को पेट्रोल से जला दिए जाने की घटना के दिन से ही लोग आक्रोशित थे। अब मौत की खबर सुनते ही लोगों का जमावड़ा अंकिता के जरुवाडीह स्थित आवास पर लग गया। मुहल्ले के लोगों के साथ ही जिला भाजपा महिला मोर्चा,बजरंग दल,विश्व हिन्दू परिषद और भाजयुमो के कार्यकर्ताओं का का जुटान हो गया। दुमका बंद करने की घोषणा हुई। करीब 11 बजे से आक्रोशित लोग पुलिस प्रशासन के विरोध में और अंकिता के हत्या के आरोपी शाहरुख को फांसी दिलाने की मांग को लेकर शहर में प्रदर्शन शुरू कर दिया। अंकिता के मुहल्ले जरुवाडीह से लेकर दुधानी टावर चौक तक दिन पर लोग पुलिस के खिलाफ धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी करते रहे।

आरोपी शाहरुख के खिलाफ लोगों में भारी गुस्सा है। प्रदर्शनकारियों को आम लोगों का भारी समर्थन था। दुमका बंद के दौरान दुकानें स्वत बंद हो रही थी। इक्का-दुक्का जो दुकानें खुली थी,उसे भी प्रदर्शनकारियों ने बंद करा दिया।शाहरुख को फांसी देने और दुमका में विधि व्यवस्था को ठीक करने की मांग को लेकर शहर में निकाले गए जुलूस और प्रदर्शन का नेतृत्व मुख्य रुप से भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष नीतू झा,विश्व हिन्दू परिषद के जिला अध्यक्ष मिथिलेश कुमार और भाजपा युवा मोर्चा के महामंत्री अमन कुमार कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई चला कर अंकिता के हत्यारोपी शाहरुख  को फांसी की सजा दिलाई जाए।

Iram Khan

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.